1. सांसी आदि जनजातियों में प्रचलित कूकड़ी की रस्म क्या है?
(अ)विवाहोपरांत युवती की चारित्रिक पवित्रता की परीक्षा।
(ब) मृत्यु के शोक में 12वें दिन दिया गया भोज।
(स) विवाहोपरांत वधू के स्वागत में किया जाने वाला भोज।
(द) गौने के वक्त दामाद को उपहार दिया जाना।

2.निम्न में से कौनसा कथन असत्य है?
(अ)तेजाजी सहरिया समुदाय के प्रिय लोकदेवता हैं।
(ब) कथौड़ी जनजाति के पेय पदार्थों में सामान्यतः दूध का प्रयोग बिल्कुल नहीं होता।
(स) डामोर सहरिया जनजाति में कुछ हद तक बहु-पत्नी प्रथा का प्रचलन है।
(द) वैशाख अमावस्या पर केलवाड़ा के निकट सीताबाड़ी में गरासिया जनजाति का कुंभ भरता है।

3.निम्न में से कौन-सा युग्म असंगत है?
(अ)भर्तृहरि मेला भाद्रपद शुक्ल 8
(ब) चौथमाता मेला भाद्रपद कृष्ण 4
(स) कैलादेवी मेला चैत्र शुक्ल 1 से 10
(द) बेणेश्वर मेला माघ पूर्णिमा

4.निम्न में से असंगत युग्म को चुनिए:-
(त्यौहार) (तिथि)
(अ)नागपंचमी श्रावण कृष्ण 5
(ब) निर्जला एकादशी ज्येष्ठ शुक्ल 11
(स) देवशयनी एकादशी आषाढ़ शुक्ल 11
(द) शीतला अष्टमी चैत्र शुक्ल 8

5.निम्न में से कौन-सा युग्म असंगत है?
(संत) (ग्रंथ)
(अ)चरणदासजी ब्रह्मज्ञान सागर
(ब) रामचरणजी अणर्भवाणी
(स) हरिरामदासजी निसानी
(द) हरिदासजी ब्रह्मचरित्र

6.राज्य के लोक देवताओं को उनके प्रसिद्ध स्थलों से सुमेलित कीजिए:-
(लोकदेवता) (प्रसिद्ध स्थल)
A.वीर फत्ताजी 1. झोरड़ा, नागौर
B. तल्लीनाथजी 2. पंचमुखी पहाड़ी, जालौर
C. हरिरामजी 3. साथूं, बीकानेर
D. रूपनाथजी 4. नोखामंडी, बीकानेर
क. ख. ग. घ.
(अ) 1 3 2 4
(ब) 3 2 1 4
(स) 3 1 2 4
(द) 1 2 4 3

7.राजस्थान में प्रचलित लोकनाट्यों का कौन-सा विकल्प सत्य है?
(अ)लीलाएं: इस शैली में राम-कृष्ण के अवतारों का चारित्रिक अभिनय किया जाता है।
(ब) स्वांग: इस शैली में एक ही चरित्र होता है, जो किसी प्रसिद्ध चरित्र या देवी-देवता का स्वांग रचकर अभिनय करता है।
(स) बहुरूपिया: इस शैली में एक पात्र किसी लोक चरित्र, जैसे पुलिसवाला या डाॅक्टर का स्वांग रचकर अभिनय करता है।
(द) उक्त सभी विकल्प सत्य हैं।

8.राज्य में भित्ति चित्रण के संदर्भ में निम्न में से कौनसा कथन सत्य है?
(अ)कोटा की झाला हवेली आखेट के भित्ति चित्रण के लिए प्रसिद्ध है।
(ब) शेखावाटी के भित्ति चित्रों में तिथि रचनाकारों के नाम मिलते हैं।
(स) अराइश भित्ति चित्रण हेतु 'राहोली' का चूना प्रयुक्त किया जाता है।
(द) उक्त सभी कथन सत्य है।

9.महाराणा कुंभा कालीन कवि महेशभट्ट ने निम्न में से किन-किन प्रशस्तियों की रचना की थी?
1.कुंभलगढ़ प्रशस्ति 2. देवमूर्ति प्रकरण
3. कीर्तिस्तंभ प्रशस्ति 4. एकलिंग प्रशस्ति
5. राज प्रशस्ति
सहीउत्तरों के कूट का चयन कर निम्न में से उत्तर दें:-
(अ)1, 2, 3 4 (ब) 1, 3, 4 5
(स) 1 3 (द) 1, 3 4

10.सुमेलित कीजिए:-
सूची-I सूची-II
क.नागणेची माता 1. जैसलमेर
ख. आवरी माता 2. निकुंभ, चित्तौड़गढ़
ग. बड़ली माता 3. जोधपुर
घ. स्वांगियाजी 4. आकोला, चित्तौड़गढ़
क. ख. . घ.
(अ) 1 2 4 3
(ब) 2 1 3 4
(स) 3 2 4 1
(द) 4 3 2 1

11.सुमेलित कीजिए:-
(ग्रंथ) (रचनाकार)
क.हरिमेखला 1. महाराजा चतुरसिंह
ख. चतुर प्रकाश 2. हम्मीरदान रतनू
ग. पिंगल प्रकाश 3. रामनाथ कविया
घ. पाबूजी रा सोरठा 4. माहुक
क. ख. ग. घ.
(अ) 4 1 2 3
(ब) 1 2 3 4
(स) 2 3 4 1
(द) 3 4 1 2

12.सुमेलित कीजिए:-
(प्रमुख कलाकार) (शैली)
क.घासीराम 1. किशनगढ़
ख. नसीरदीन 2. बीकानेर
ग. रुक्नुद्दीन 3. चावण्ड
घ. मोरध्वज 4. नाथद्वारा
क. ख. ग. घ.
(अ) 1 2 3 4
(ब) 2 3 4 1
(स) 3 4 1 2
(द) 4 3 2 1

13.बादशाह मेला कहां लगता है?
(अ)ब्यावर (ब) भीलवाड़ा
(स) केकड़ी (द) पाली

  

Comments


LEAVE A COMMENT

Note: write a valuable comment!
* Required Field