Previous

Next



महाराणा प्रताप का जीवन प‍रिचय -

महाराणा प्रताप (Maharana Pratap) का नाम उनकी वीरता और पराक्रम के लिए आज भी याद किया जाता है ये ऐसे वीर शासक थे जो कभी किसी के सामने नहीं झुके थे आइये जानते हैं महाराणा प्रताप का जीवन प‍रिचय -

 

जन्म- 9 मई, 1540 ई. कुम्भलगढ़, राजस्थान; मृत्यु- 29 जनवरी, 1597 ई.)

 

  1. महाराणा प्रताप का जन्‍म 9 मई 1540 को  मेवाड में शिशोदिया राजवंश में हुआ था 
  2. इनके पिता का नाम राणा उदय सिंह और माता का नाम जयवंता बाई जी था
  3. महाराणा प्रताप को बचपन में कीका के नाम से जाना जाता था
  4. महाराणा प्रताप की 11 शादियॉ हुई थी 
  5. महाराण प्रताप के भाले का वजन 81 किलो था 
  6. प्रताप के भाले और उनके कवच और उनकी दो तलवारों काे मिलाकर कुल्‍ा वजन 208 किलो था
  7. उनके तलवार कवच आदि सामान आज भी उदयपुर राज घराने के संग्रहालय में सुरक्षित रखे हुएे हैं   
  8. महाराणा प्रताप के धोडे का नाम चेतक था जो काफी बहादुर घोडा था 
  9. महाराणा प्रताप निहत्थे दुश्मन के लिए भी एक तलवार रखते थे
  10. महाराणा प्रताप और मुगलों के बीच प्रसिद्ध हल्‍दी धाटी का युद्ध 18 जून 1576 को हुआ था
  11. इस युद्ध में महाराणा प्रताप की तरफ से लडने वाले एक मात्र मुसलमान हकीम खां सूरी थे 
  12. इस युद्ध में किसी की विजय नहीं हुई थी 
  13. ऐसा माना जाता है हल्‍दी धाटी के मैदान में आज भी तलवारें पाई जाती हैं 
  14. महाराणा प्रताप की मृत्यु 29 जनवरी, 1597 ई. में हो गई थी 
  15. महाराणा प्रताप की मौत पर मुगल शासक अकबर (Akbar) भी रो पडा था

Previous

Next


Comments


LEAVE A COMMENT

Note: write a valuable comment!
* Required Field