Previous

Next



  • ·         जहीरुद्दीन बाबर का जन्म 1483 में फरगाना में हुआ।

    ·         बाबर ने अपनी आत्मकथा तुर्की भाषा में लिखी।

    ·         ‘दीन पनाह’ नगर की स्थापना हुमायूँ ने की थी।

    ·         1562 में अकबर ने दास प्रथा का अन्त किया।

    ·         अकबर ने फतेहपुर सीकरी में बुलन्द दरवाजे बनवाया था।

    ·         बुलन्द दरवाजे का निर्माण कारय 1575 में पूरा हुआ था।

    ·         अकबर ने प्रसिद्ध गायक तानसेन को ‘कठाभरणवाणी’ की उपाधि से विभूषित किया था।

    ·         अकबर मुगल वंश का सर्वाधिक विख्यात बादशाह था।

    ·         जहाँगीर ने ‘नूरुद्दीन’ की उपाधि धारण की थी।

    ·         मुगल वंश के सस्थापक बाबर थे।

    ·         बाबर के पूर्वजों की राजधानी समरकंद में स्थित थी।

    ·         सन् 1495 में बाबर फरगना की गद्दी पर बैठा।

    ·         वर्तमान में फरगना उज्बेकिस्तान में है।       

    ·         बाबर ने भारत पर 5 बार आक्रमण किया।

    ·         बाबर को ‘मुबईयान’ नामक पद्य शैली का जन्मदाता कहते है।

    ·         बाबर ने अपनी आत्मकथा बाबरनामा के नाम से लिखी।

    ·         जहांगीर ने ‘निसार’ नाम से सिक्का चलाया था।

    ·         जहांगीर ने न्याय के लिए महल में सोने की जंजीरे लगवाई हुई थी।

    ·         जहांगीर का कहना था कि ‘जो चित्रकला का शत्रु है वह मेरा भी हैं’।

    ·         शाहजहां ने ‘मयूर सिंहासन’ का बनवाया था।

    ·         शाहजहां ने ‘ताजमहल’ का बनवाया था।

    ·         ताजमहल को बनवाने में 22 वर्ष लगे।

    ·         ‘गंगालहरी’ नामक कृति शाहजहां के समय में रची गयी थी।

    ·         शाहजहां ने ‘गुण समंदर’ की उपाधि धारण की थी।

    ·         औरंगजेब ने अपने पिता को कैद में डाल दिया था।      

    ·         औरंगजेब के शासन में मुगल साम्राज्य की सीमाएँ सबसे ज्यादा बढ गई थीं।

    ·         शेरशाह का मकबरा सासाराम (बिहार) मे है।

    ·         ‘नगीना मस्जिद’ आगरा शहर में है।

    ·         पानीपत की दूसरी लड़ाई में विक्रमादित्य हार गया था।

    ·         खानवा का युद्ध 1527 में लडा गया था।

    ·         ‘भानुचंद्र चरित’ के लेखक सिद्धचंद्र हैं।

     

Previous

Next


Comments


LEAVE A COMMENT

Note: write a valuable comment!
* Required Field